रास्ते में मिली चूत

फिर मैं उसकी चूत से अपनी ऊँगली को निकाल कर मैंने अपने कपडे निकाल दिए | फिर अपने लंड को हाथ में पकड कर हिलाने लगा | तब वो मेरे लंड को अपने हाथ में पकड कर हिलाते हुए मुंह में रख कर चूसने लगी..

एक चुडक्कड़ परिवार की कहानी – 3

उसे अपनी टाँगों के बीच एक बहुत अच्छा एहसास हो रहा था, उसने इस बार फिर जोर से धक्का दिया, उसका लंड उसकी गांड की दरार में कुहनी मार रहा था, आरती थोड़ी देर के लिए उससे अलग हो गई..

दोस्त की बहन की गुलाबी चूत को अपने घर में चोदा

हम दोनों ऐसे ही एक दुसरे की होठो को कुछ देर तक किस करने के बाद मैंने उसके कपडे निकाल दिए तो वो मेरे सामने ब्रा और पैंटी में आ गयी.. वो अपने गुलाबी चूत को अपनी घुलाबी पैंटी में छुपा के रखे थी…

टैक्सी ड्राइवर से बीवी को चुदवाया

मैंने उसकी टांगें फैला दीं और उसकी चूत को कुछ देर साड़ी पर रगड़ा… फिर मैं वापस अपनी कुर्सी पर बैठ गया और उन्हें देखने लगा… अब तक उसने उसके दोनों बूब्स निकाल कर चूसा, दबाया और काटा।…

शदीशुदा पंजाबी आंटी की चुदाई

उसने एक सिल्क की साड़ी पहन रखी थी और वो ग़ज़ब का माल लग रही थी। वो अंदर आई और बात करने लगी। में उसके पास गया और उसे किस करना शुरू कर दिया। उसने कहा कि आराम से और में किस किये जा रहा था…

घर में आया मेहमान बना मेरी अन्तर्वासना का शिकार

मेरे दोनों बूब्स को मुंह में रख कर जोर जोर से चूसने लगा | मैं बेड पर लेट कर जोर जोर से सिसकियाँ ले रही थी | वो मेरे बूब्स को ऐसे ही जोर जोर से 5 मिनट तक चूसता रहा | फिर मैंने उसके सर को पकड कर अपनी चूत में घुसा दिया…

भिखारी लड़की के जलवे

मैंने उन्हें चूसना शुरू कर दिया, क्योंकि मैं खुद को नियंत्रित नहीं कर पा रही थी। वो मेरा लंड अपने मुँह में लेने लगी. मुझे अभ्यास करने की आदत थी। इतनी अच्छी अनुभूति मैंने अपने पूरे जीवन में कभी नहीं महसूस की थी…

हवस चुदाई की

पापा सोफे पर बैठ गए पापा ने मम्मी को अपने लंड को चूसने को कहा . फिर पूछा की अग्रवाल की मोंत के बाद रजनी कहा है. मम्मी ने कहा की अग्रवाल ने उसे पास ही में एक घर दिला दिया है वो वही रहती है अपनी बेटी के साथ …

पहले पहले प्यार का लम्बा इंतजार – 2

मैं तब उसके पेट पर चुम्बन करके हुए उसकी गहरी नाभि में अपनी जीभ को लगाकर कर चटाने लगा | मैं जब उसकी गहरी नाभि को चाटने लगा | उसने मुझे कस के पकड लिए और मुझसे लिपट गयी | दोस्तों मेरे चुम्बन का असर उस पर हो रहा था..

रिश्तेदार के भाई की सेक्सी बेटी

हनी एक शानदार जिस्म की मालकिन थी- लंबा कद, दूधिया रंग, पतली कमर, बेहतरीन चूचियाँ और मदमस्त चूतड़ यानि कूल्हे ! कुल मिलाकर सर से पाँव तक चोदने लायक माल थी। मैं आज रात को ही उसे चोदने के मूड में था।…