livedosti.com

वार्डन मेम की चुदाई का सुख

दोस्तो, मेरा नाम Arjun है और मैं गुजरातसे हूं. यह कहानी मेरे और मेरी भाभी के बीच की है. यह बात 2019 की है. उन दिनों मैं में जॉब के लिए ha ओडिशा आया हुआ था. मैं जिस शहर का अपार्टमेंट में मैं रहता था उसमें ही . उसी फ्लैट के आसपास 6 और फ्लैट भी बने हुए थे. अभी तक मैं ऑफिस से घर और घर से ऑफिस इतना ही कर रहा था. mote indian boobs wali sexy aunty ki chudai ki kahaniya!

मैं सुबह 9 बजे अपने ऑफिस में चला जाता था और शाम को करीब 7 बजे वापस लौट कर आता था. मेरा वहां पर ज्यादा लोगों से बातचीत या व्यवहार नहीं था.

मेरे फ्लैट के पीछे जो बालकनी थी उसी से लगी हुई एक बड़ी दीवार थी. उसको देख कर ऐसा लगता था कि पीछे जरूर कोई अच्छी खासी फैमिली रह रही होगी.

फिर एक दिन काफी तेज बारिश हो रही थी. उस दिन मैं ऑफिस में नहीं गया और अपने फ्लैट पर ही रहा. मैं अकेला रहता था तो पीछे वाला बालकनी का दरवाजा ज्यादातर समय में खुला ही रहता था.

Don’t miss our Indian Boobs Sex Hot Stories!

उस दिन मैं घर में था तो मैंने अंडरवियर के सिवाय कुछ और नहीं पहना हुआ था. मुझे नहीं पता था कि बालकनी के पीछे जो ऊंची दीवार है वहां से मुझे कोई देख भी रहा होगा.

तो उस दिन मैंने पहली बार इस बात पर गौर किया कि पीछे के मकान में एक भाभी रहती है. उसका नाम सविता था. उनकी उम्र करीब 38 साल रही होगी. उनका बदन एकदम से मस्त और भरा हुआ था. वो न तो ज्यादा मोटी थी और न ही ज्यादा पतली. उसके नैन नक्श भी एकदम तीखे थे.

भाभी के बूब्स के उभार भी मस्त थे. उनको देख कर लग रहा था कि 36 के साइज के तो जरूर रहे होंगे. मैं उस दिन बालकनी के पास वाले रूम में खड़ा होकर दाढ़ी बना रहा था.

मेरा मुंह शीशे की तरफ था. अचानक मेरा ध्यान पीछे की ओर दीवार पर गया. मैंने देखा कि पीछे की दीवार जो मेरे रूम से करीब 5 फीट ऊंची थी, वहां पर भाभी खड़ी हुई थी.

शायद बारिश का पानी उनकी छत पर जमा हो गया था. हो सकता है कि भाभी बारिश का पानी निकालने के लिए छत पर आई थी. उसके हाथ में एक झाड़ू भी थी. पहले तो मैंने गौर नहीं किया. मगर जब 2-3 बार मैंने शीशे में देखा तो भाभी बहाने से वहीं पर खड़ी हुई मेरी ओर ही देख रही थी.

उस वक्त भाभी ने पीले रंग की साड़ी पहनी हुई थी. अब बारिश भी हल्की हल्की हो रही थी. बूंदें ऐसी थी कि भिगो नहीं सकती थी मगर फिर भी छोटे आकार में बौछारों के रूप में गिर रही थीं. मौसम काफी सुहावना हो चला था. ठंडी ठंडी हवा मेरे नंगे जिस्म को भी छू रही थी.

सामने का नजारा भी मस्त था. एक परायी औरत मेरे जिस्म को घूर रही थी, भीगी साड़ी में एक भाभी जो एक जवान मर्द पर नजर गड़ाये हुए थी माहौल को और भी कामुक बना रही थी.

मैं भी केवल फ्रेंची में ही था इसलिए उत्तेजना महसूस होना स्वाभाविक था, खासकर कि जब कोई प्यासी औरत आपके बदन को ताड़ रही हो.

चूंकि मेरा मुंह शीशे की ओर था. भाभी सोच रही थी कि मैं भाभी को नहीं देख पा रहा हूं जबकि मुझे साफ साफ दिखाई दे रहा था कि भाभी मुझे ही घूर रही थी.

Indian gay sex padhne walo ko bhi pasand aate hai big indian boobs!

मैं भी अन्जान बन कर भाभी को अपने कसरती बदन के हर एक अंग के जी भर कर दर्शन करवा रहा था ताकि भाभी की चूत में खुजली मचना शुरू हो जाये.

भाभी मुझ पर नजर गड़ाये हुए थी. तभी मेरे मन में एक शरारत सूझी कि क्यों न भाभी को थोड़ा और ज्यादा उत्तेजित किया जाये. जैसा कि मैंने पहले बताया था कि बालकनी से लगने वाली दीवार 5 फिट ऊपर थी. यानि कि भाभी मेरे से 5 फिट ऊपर की हाइट पर खड़ी हुई थी.

उसको लग रहा था कि मैं उसे नहीं देख पा रहा हूं. मैं कुछ ऐसे रिएक्ट कर रहा था कि जैसे मैं अपनी ही मस्ती में हूं और आसपास के माहौल पर ध्यान नहीं दे रहा हूं. इसी बात का फायदा उठाने के बारे में मैंने सोचा.

इसलिए मैंने भाभी को गर्म करने के लिए अपना मुंह भाभी की ओर ही कर लिया और फिर अपनी फ्रेंची को भी उतार ही दिया. चूंकि मैं अपने यहां पर अकेला ही था इसलिए किसी के आने का डर भी नहीं था.

फ्रेंची को नीचे करते ही मेरा 7 इंची लंड लटकने लगा. मेरा 7 इंच का मोटा लंड देख कर भाभी का मुंह खुल गया और वो मुझे एकटक देखने लगी.

भाभी का रिएक्शन देखते हुए मैंने अपने लंड पर थोड़ा तेल लगा लिया. तेल मेरी शेविंग किट में ही रखा हुआ था. लंड पर तेल लगा कर मैंने अपने लंड को मालिश करना शुरू कर दिया. मैं शीशे में भाभी के चेहरे के रिएक्शन भी देख रहा था.

मेरे हाथ में मेरा लंड आगे पीछे होता देख कर भाभी हालत खराब होने लगी थी. मैं अपने लंड के सुपारे पर तेल मलते हुए उसको और चिकना कर रहा था.

देखते ही देखते मेरा लंड पूरा तन गया. मैंने अब और तेल लगा लिया और तेजी से अपने लंड पर हाथ फिराने लगा. भाभी अपने दांतों के नीचे अपने होंठों को दबाते हुए उनको काटने लगी थी. ऐसा लग रहा था कि भाभी मेरे लंड को करीब से देखना चाह रही थी.

मैंने भी और तेजी से लंड पर हाथ चलाना शुरू कर दिया. मैं तेजी से लंड की मुठ मारने लगा और दो-तीन मिनट में ही उत्तेजना के मारे मेरे लंड से वीर्य निकल गया. जैसे ही मेरे लंड ने वीर्य छोड़ा तो भाभी वहां से सरक कर पीछे हो गयी. फिर वो मुझे दिखाई नहीं दी. शायद नीचे चली गयी थी.

www indian hot kahani se bharpoor sexy indian boobs wali aunty ke pics!